Jayant Chaudhary Exclusive: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है. अखिलेश यादव ने इसके अलावा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP), अपना दल (कमेरावादी ), प्रगतिशील समाजवादी पार्टी और महान दल से गठबंधन किया है. हालांकि अखिलेश यादव ने चंद्रशेखर आजाद (Chandra Shekhar Aazad) की आजाद समाज पार्टी और कांग्रेस को तव्वजो नहीं दी है. इसी को लेकर जब जयंत चौधरी से सवाल किया गया तो उन्होंने कांग्रेस को लेकर खुलकर तो बात नहीं कही लेकिन उन्होंने चंद्रशेखर आजाद को लेकर कहा कि उनसे बातचीत अंतिम समय में विफल हो गई.

क्या चंद्रशेखर आजाद (Chandra Shekhar Aazad) से गठबंधन करना चाहिए? इस सवाल पर एबीपी न्यूज़ के खास कार्यक्रम ‘घोषणापत्र’ में जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) ने कहा कि चंद्रशेखर आजाद ने काफी मेहनत की है. अन्याय के खिलाफ उन्होंने आवाज उठाई है. उसी का सम्मान करते हुए कोशिश की गई. मुझसे अखिलेश यादव ने पूछा था, एक सीट रामपुर की थी. उन्होंने पूछा की क्या हम उनको (चंद्रशेखर) ले लें और रामपुर की सीट दे दें. तो मैंने हां में जवाब दिया. अखिलेश यादव ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इतनी सीट हम दे रहे थे, उनकी मांग ज्यादा थी.

वहीं कांग्रेस को साथ लेने के सवाल पर जयंत चौधरी ने कहा कि विपक्ष का मत जितना नहीं बंट रहा है, जितना बीजेपी का घट रहा है. जिस तरह से उन्होंने दरवाजे को लॉक करने की कोशिश की लेकिन भगदड़ मच गई. यही संकेत है. जमीन पर पूरी तरह से माहौल तब्दील हो चुका है. कांग्रेस का अपना एक वोट है, बीएसपी का वोट है. दोनों अपने मुद्दों पर चुनाव लड़ रहे हैं.

‘घोषणापत्र’ में Jayant Chaudhary की दहाड़, बोले- अहंकारी है सरकार, दिया गठबंधन को लेकर हर सवाल का जवाब



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.