Assembly Election 2022: भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा है कि भारत सरकार ने दिल्ली में जो भी वादा किया है उसे पूरा करे. हम चुनाव से अलग हैं, हमारा एक मत (Vote) है, हम भी किसी को दे देंगे. मैं किसी का समर्थन नहीं कर रहा. जनता सरकार से खुश होगी तो उन्हें वोट देगी. नाराज होगी तो किसी और को वोट देगी.

एक दिन पहले ही राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने आंदोलन की चेतावनी दी थी. उन्होंने कहा था कि किसानों और सरकार के बीच हुए समझौते में फसलों के न्यूनमत समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर एक कमेटी के गठन की बात थी. सरकार ने अब तक इस कमेटी का गठन नहीं किया है.

राकेश टिकैत ने कहा था कि कमेटी न बनाने के विरोध में किसान 31 जनवरी को धरना देंगे. राकेश टिकैत ने बताया था कि 31 जनवरी को पूरे देश में डीएम और एसडीएम के दफ्तर पर धरना दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि यह धरना सरकार की ओर से एमएसपी पर अब तक कमेटी न बनाने के विरोध में दिया जाएगा. 

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा था कि अमित शाह ने किसानों से बात नहीं की. हमें अपने आंदोलन का पता है. राकेश टिकैत ने कहा था कि भारत सरकार या राज्य में किसी की भी सरकार आएगी और अगर वो किसान खिलाफ कोई कानून बनाएगी हमको उसका विरोध करना है. वो सरकार किसी की भी आए. राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार ने एमएसपी गारंटी कानून पर कमेटी बनाने की बात कही थी. हम सरकार को ढूंढ रहे हैं कि सरकार हैं कहां? वो कमेटी कब बनेगी? उसपर बातचीत शुरू करो आप.

ये भी पढ़ें-  UP Election: प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा- युवाओं को रोजगार देना नहीं, जासूसी है इनका एजेंडा

ये भी पढ़ें-  Manipur Assembly Election 2022: मणिपुर में सभी 60 सीटों पर बीजेपी ने उतारे उम्मीदवार, किसे-कहां से मिला टिकट



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.