India Coronavirus: कोरोना की तीसरी लहर में सबसे ज्यादा केस कल आने का दावा किया गया है. यानी इसके बाद कोरोना केसों में कमी आनी शुरू हो जाएगी. पहले ये अनुमान फरवरी के लिए लगाया गया था. सवाल है कि क्या अनुमान से भी तेजी से फैली है कोरोना की तीसरी लहर?

दरअसल, मुंबई में सोमवार से स्कूल फिर खुल रहे हैं. दिल्ली में भी सीएम केजरीवाल ने ऑड ईवन खत्म कर बाजार खुलने की वकालत की है. दो शहरों में पाबंदियों में रिहायतें हालात काबू में आने की बात कर रहे हैं हालांकि देश में लगातार बढ़ते कोरोना केसों का आंकड़ा डराने वाला है. कानपुर IIT के प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया है कि कल यानी 23 जनवरी को देश में कोरोना केसों का पीक आ जाएगा. यानी इसके बाद देश में कोरोना केस घटने शुरू हो जाएंगे. फरवरी तक रोजोना के 20 से 25 हजार केस रह जाने का दावा है. होली तक कोरोना का पूरी तरह काबू में आने का अनुमान है.

गणितीय मॉडल के आधार पर भविष्यवाणी करते हैं प्रोफेसर मणींद्र

प्रोफेसर मणींद्र ने फरवरी में कोरोना का पीक आने का दावा किया था. हालांकि तेजी से फैलते कोरोना के बाद उन्हें अपनी पिछली भविष्यवाणी में सुधार करना पड़ा. पद्मश्री से सम्मानित प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल गणितीय मॉडल के आधार पर भविष्यवाणी करते हैं. अगर ये बात सच साबित होती है तो ये देश के लिए गुड न्यूज साबित होगी. 

देश में कोरोना का कुल आंकड़ा 38 लाख के पार

बता दें, देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है, वहीं संक्रमण के चलते मौतें भी हो रहीं हैं. पिछली दो कोरोना वेव की तुलना में हालांकि ये मौतें कम है. देश में अब तक कोरोना के कुल मामलों की संख्या 38,901,485 हो गई है. वहीं, इस महामारी के चलते 488,911 लोगों ने अपनी जान गवां दी है. 

यह भी पढ़ें.

Elon Musk Brain Chip: इंसान की पुरानी यादों को अब नए शरीर में किया जा सकेगा ट्रांसफर! दिमाग में कंप्यूटर के जरिए लगाई जाएगी चिप

Indian Railways New Rules: ट्रेन में सफर करने वाले जरूर पढ़ लें नए नियम, रात में ऐसा करने पर होगी सजा



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.