Uttar Pradesh Assembly Election 2022: उत्तर प्रदेश चुनावों में पश्चिमी यूपी ने इन दिनों सरगर्मी बढ़ा दी है. पश्चिमी यूपी में बीजेपी की बढ़ी हलचल को लेकर केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने तीखे सवालों के abp से बातचीत के दौरान जवाब दिए. जयंत और अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस और जयंत को दिए गए ऑफर पर संजीव बालियान ने कहा कि हमने कोई ऑफर नहीं दिया था. हमारे गृहमंत्री ने बस इतना कहा था कि वो गलत घर में हैं. वो जहां हैं, वहां उन्हें कोई नहीं पूछेगा. अगर समाजवादी पार्टी की सरकार बन गई तो वो आजम खान को पूछेगी, उन्हें नहीं. जयंत चौधरी की इच्छा है वो कहीं भी गठबंधन कर सकते हैं.

क्या बीजेपी उनको मिस कर रही है? इस पर संजीव बालियान ने कहा कि मिस तो हम कई बार करते हैं, वो हमारे साथ रहे हैं. चौधरी अजीत सिंह भी BJP के साथ लड़े. उन्होंने कहा कि जयंत चौधरी किसको मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं. मुख्यमंत्री तो अखिलेश यादव ही बनेंगे. अखिलेश यादव क्या उन्हें मुख्यमंत्री बना देंगे. क्या अखिलेश यादव उन्हें सीएम बनाएंगे? 

आपके यहां क्या जयंत डिप्टी सीएम बन सकते हैं? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पार्टी में बहुत नेता बैठे हैं. मैं कोई बड़ा नेता हूं, जो इस सवाल का जवाब दे सकूं. मैंने कोई बात नहीं की. शाह के जाट सम्मेलन पर उन्होंने कहा कि दूसरी पार्टियां भी सम्मेलन कर रही है, इसमें नई बात क्या है? आपकी उपलब्धि क्या है उस पर वोट क्यों नहीं मांगते? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि पहले चार घंटे में दिल्ली से मुजफ्फरनगर पहुंचते थे, अब डेढ़ घंटे पहुंच जाते हैं. पश्चिमी यूपी में सबसे कम अपराध मुजफ्फरनगर में हैं. कम्पैरिजन करने पर ही बदलाव दिखेगा. 

क्या नोट छापने की अखिलेश पर मशीन है?

किसानों की मांगों का क्या? संजीव बालियान ने कहा कि एमएसपी पर कानून बनाने का अधिकार केंद्र का है. अखिलेश मुख्यमंत्री बनने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं, या प्रधानमंत्री बनने के लिए. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अखिलेश सैफई में मशीन लगा रही है, जिससे नोट छाप-छापकर सबकुछ फ्री दे देंगे. यूपी से प्रधानमंत्री बनने का रास्ता निकलता है. यूपी में अगर बीजेपी की सरकार बनेगी तो देश में 2024 में हमारी सरकार बनेगी. 

आप राकेश टिकैत, नरेश टिकैत और किसानों को क्यों नहीं समझा पा रहे हैं? संजीव बालियान क्या फेल हो रहे हैं. इस पर संजीव बालियान ने कहा कि वो राजनीतिक नेता नहीं हैं, वो किसान नेता हैं. जनता बीजेपी को जिताने का मूड बना चुकी है. अगर बीजेपी की सरकार न बनेगी तो मैं मानूंगा कि किसानों को नहीं समझा पाए. केंद्रीय कृषि मंत्री संजीव बालियान ने कहा कि देश में जो कुछ भी होगा किसानों की सहमति से होगा, बिना उनसे पूछे कुछ नहीं होगा. कृषि कानून वापस नहीं आएंगे. किसानों से पूछकर ही कुछ भी फैसला करेंगे.

ये भी पढ़ें- ABP C Voter Survey: जाट किसके कराएंगे ठाठ? मुस्लिम और ब्राह्मण किसे चाहते हैं सीएम बनाना, सर्वे में हुआ बड़ा खुलासा

ये भी पढ़ें- हेलिकॉप्टर से उड़ान भड़ने के बाद Akhilesh Yadav बोले- समाजवादी संघर्ष के इतिहास में ये दिन भी दर्ज होगा!



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.