Election 2022: चुनावी सरगर्मी के बीच कोरोना के मामलों ने चिंता की लकीरें खींच दी है. इस बीच चुनाव आयोग शनिवार को एक बैठक कर यह तय करेगा कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए रैलियों और रोड शो पर लगाया गया प्रतिबंध जारी रहना चाहिए या नहीं.

आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में चुनावों की तारीखों की घोषणा करते हुए निर्वाचन आयोग ने 15 जनवरी तक रैलियों, रोड और बाइक शो और इसी तरह के प्रचार कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी. आयोग ने 15 जनवरी को प्रतिबंध को 22 जनवरी तक बढ़ा दिया था.

हालांकि आयोग ने राजनीतिक दलों को ‘इनडोर’ यानी हाल में अधिकतम 300 लोगों के साथ या हाल की क्षमता के अनुरूप 50 फीसदी लोगों के साथ बैठक करने की छूट दी थी.

चुनावी राज्यों में कोरोना का हाल
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राज्य में पिछले 24 घंटे में COVID 19 के 16,142 मामले सामने आए और 17,600 लोग डिस्चार्ज हुए हैं. राज्य में 95,866 सक्रिय मामले हैं. पिछले 24 घंटों में 22 लोगों की मौत दर्ज़ की गई.

वहीं उत्तराखंड में गुरुवार को कोरोना के 4818 और बुधवार को 4402 केस की पुष्टि हुई थी. पंजाब में गुरुवार को 7862 और बुधवार को 7717 मामले आए थे. चुनावी राज्य मणिपुर में गुरुवार को 448 और बुधवार को कोरोना के 358 केस आए थे. 

गोवा में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 3,390 नये मामले सामने आए थे और महामारी से नौ और मरीजों की मौत हो गई. विभाग ने बताया कि राज्य में संक्रमण दर 40.86 प्रतिशत तक पहुंच गई है. इससे एक दिन पहले तटीय राज्य में 3,936 केस की पुष्टि हुई थी. गोवा में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 3,936 नए मामले सामने आए थे जबकि सात मरीजों की मौत हुई थी. 

Covid Situation India: कितनी अलग है कोरोना की ये लहर? संक्रमण से लेकर मौतों तक, एक्सपर्ट्स ने दिया हर सवाल का जवाब



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.