Gurugram Fraud Case Delhi Police: दिल्ली पुलिस ने एक वाहन वित्तपोषण कंपनी के साथ कथित तौर पर 2.18 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी करने वाले 42 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. पुलिस के मुताबिक आरोपी पिछले तीन साल तक छिप रहा था. कंपनी की शिकायत के बाद 2018 में गुरुग्राम निवासी प्रमोद सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था.

पुलिस के अनुसार प्रमोद सिंह ने शुरू में मर्सीडीज बेंज कार खरीदने के लिए फर्म से 27.5 लाख रुपये उधार लिए और शुरुआती किश्तों का भुगतान किया. कंपनी का विश्वास हासिल करने के बाद, उसने चार और ऋण लिए और कुछ समय तक किश्तों का भुगतान करता रहा. लेकिन बाद में उसने भुगतान बंद कर दिया.

पुलिस ने कहा कि परिवहन विभाग के कुछ अधिकारी भी प्रमोद सिंह के साथ मिले हुए थे. शिकायतकर्ता के अनुसार प्रमोद पर फर्म का 2,18,34,853 रुपये बकाया है.

Delhi में Corona के 7498 नए मामले, स्कूल खोलने और वीकेंड कर्फ्यू पर चर्चा, पाबंदियों में राहत की उम्मीद

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा की उपायुक्त छाया शर्मा ने कहा कि वह पिछले तीन साल से फरार था और उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था. लंबे समय तक प्रमोद का पीछा करने और उस पर नजर रखने के बाद उसे हाल ही में गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया.

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Assembly Election 2022: हरीश रावत अब लाल कुआं से लड़ेंगे चुनाव, कांग्रेस ने जारी की 10 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.