Pegasus Spyware: पेगासस सॉफ्टवेयर (Pegasus Software) की कथित खरीद को UN में इज़राइल के पक्ष में दिए 2019 के भारतीय वोट से जोड़ने वाले न्यूयॉर्क टाइम्स (New York Times) के दावे को सैयद अकबरुद्दीन (Syed Akbaruddin) ने ABP News से बातचीत में ख़ारिज किया है. UN में भारत के स्थाई प्रतिनिधि रहे अकबरुद्दीन ने जून 2019 में एक फिलिस्तीनी NGO को ऑब्जर्वर स्टेटस दिए जाने के मामले पर इज़राइल के पक्ष में वोट देने के मामले को पेगासस मामले से जोड़ने को NYT की गलती करार दिया है. 

अकबरुद्दीन ने खारिज किया NYT का दावा

उन्होंने कहा कि यह फैसला हमने स्थानीय स्तर पर लिया और चूंकि मसला आतंकवाद से जुड़ा था, इसलिए भारत की स्थापित नीति के अनुरूप ही निर्णय लिया गया. वोट न्यूयॉर्क में दोपहर के वक्त हुआ था, जिस वक्त भारत में आधी रात थी. इस बारे में न तो वोट से पहले दिल्ली से कोई संपर्क या सन्देश हुआ और न ही बाद में कभी किसी ने कुछ कहा. ऐसे में अखबार का यूएन की इकोनॉमिक व सोशल काउंसिल में हुए एक वोट को किसी विवाद से जोड़ना बहुत हैरतअंगेज है.

उनका कहना है कि इज़राइल के साथ भारत के रिश्ते बीते दो दशकों और विभिन्न सरकारों के कार्यकाल के दौरान मजबूत हुए हैं. दुनिया के क़ई देशों के साथ इज़राइल के रिश्तों में बेहतरी आई है और यह सबके सामने है. बता दें कि सैयद अकबरुद्दीन 1985 बैच के प्रशासनिक सेवा अधिकारी हैं, जो UN में भारत के स्थाई प्रतिनिधि रह चुके हैं. उन्हीं के प्रयास से मसूद अजहर को UN में वैश्विक आतंकी घोषित किया गया था.

Coronavirus Cases Today: देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2 लाख 35 हजार से ज्यादा केस दर्ज, 871 लोगों की मौत

कांग्रेस ने रिपोर्ट के हवाले से किया ये दावा

फिलहाल पेगासस स्पाईवेयर से संबंधित न्यूयॉर्क टाइम्स के दावे के लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर ‘देशद्रोह’ करने का आरोप लगाया है. अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट दावे को लेकर राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी सरकार ने हमारे लोकतंत्र की प्राथमिक संस्थाओं, राजनेताओं व जनता की जासूसी करने के लिए पेगासस ख़रीदा था. फ़ोन टैप करके सत्ता पक्ष, विपक्ष, सेना, न्यायपालिका सब को निशाना बनाया है. ये देशद्रोह है.’’

Omicron Alert: क्या ओमिक्रोन कर रहा है आपकी इम्यूनिटी को मजबूत? जानिए क्या है सच्चाई



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.