Punjab Election Update: पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस (Congress) पार्टी के लिए एक बार फिर मुश्किल खड़ी हो गई है. प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने गुरुवार देर रात मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह ‘चन्नी’ के भांजे भूपेंद्र सिंह ‘हनी’ को अवैध खनन मामले में गिरफ्तार कर लिया. शुक्रवार को हनी को अदालत में पेश किया, जहां से उसे 8 फरवरी तक रिमांड पर भेज दिया. चन्नी के भांजे पर कार्रवाई होते ही पंजाब की सियासत गरमा गई है. एक तरफ विपक्ष इसको लेकर हमलावर नजर आ रहा है, तो कांग्रेस इसे बीजेपी का पैंतरा बता रही है.

पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा ने कहा, ” हमें पहले दिन से ही पता था कि यह कुछ ऐसा करेंगे. ईडी के जरिए ये लोग डराकर चुनाव कराने की कोशिश कर रहे हैं. दलित परिवार को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. पश्चिम बंगाल में अभी केंद्र सरकार ने अपनी एजेंसियों के जरिए ममता को परेशान किया था, लेकिन जनता ने इनको हरा दिया. पंजाब में भी लोग इन को हराकर इसका जवाब देंगे.” डिप्टी सीएम ने कहा कि, “पीएम मोदी विक्रम सिंह मजीठिया पर रेड करवाएं, जो उनके चहेते हैं. अगर ऐसा हुआ तो हम मानेंगे कि इंसाफ हो रहा है.” दूसरी तरफ कांग्रेस के मंत्री तृप्त रजिंदर बाजवा ने भी कहा कि बीजेपी का काम करने का यही तरीका है. पहले बंगाल में ममता बनर्जी के रिश्तेदारों को तंग किया था, फिर महाराष्ट्र में भी ईडी की रेड करवाई गई. आम लोगों पर इस कार्रवाई का कोई असर नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा कि पंजाब के लोग सीएम चन्नी के अच्छे कामों को जानते हैं.

विपक्ष ने बोला हमला

अकाली विधायक बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा कि चनी, मनी, हनी की चेन है. पहले मनी पकड़ा गया और अब हनी पकड़ा गया. जल्द ही चनी भी पकड़ा जाएगा. जो पैसे पकड़े गए हैं, वह हनी के नहीं बल्कि चनी के हैं. चनी के खिलाफ एक्शन होना चाहिए.  इधर पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि बीजेपी पर कार्रवाई करने के आरोप क्यों लगाए जा रहे हैं? अगर कोई करप्ट है तो उस पर कार्रवाई होगी. इसे पार्टी से क्यों जोड़ा जा रहा है. सभी एजेंसियां जांच करती हैं चाहे वह ईडी हो, सीबीआई हो या इनकम टैक्स.

चन्नी की मुश्किलें बढ़ीं

6 फरवरी को पंजाब कांग्रेस के सीएम चेहरे का ऐलान होने वाला है. राहुल गांधी सीएम कैंडिडेट का ऐलान करेंगे. फिलहाल रेस में नवजोत सिंह सिद्धू और चरणजीत सिंह चन्नी सबसे आगे हैं. चन्नी के भांजे की गिरफ्तारी के बाद उनकी मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं. हालांकि कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि ईडी की कार्रवाई से कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

यह भी पढ़ेंः ABP C Voter Survey: ‘बीजेपी को सजा’ देने के किसानों के एलान का चुनाव पर असर होगा? लोगों के जवाब ने चौंकाया

UP Election 2022: ‘लॉकडाउन, नोटबंदी के चलते बंद होने की कगार पर पहुंचे उद्योग’, प्रियंका गांधी का सरकार पर निशाना



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.