बिहार के अलग-अलग शहरों में पिछले तीन दिनों से RRB NTPC रिजल्ट को लेकर हंगामा हो रहा है। रिजल्ट में धांधली का आरोप लगाते हुए छात्र सड़कों पर हैं। आक्रोशित अभ्यर्थियों ने सबसे ज्यादा नुकसान रेलवे को पहुंचाया है। इसकी वजह से कई ट्रेनों रद्द कर दी गई, जबकि कई का रूट बदलना पड़ा। पटना जिला प्रशासन ने कोचिंग संचालक खान सर समेत ऐसे कोचिंग संस्थानों के ऊपर नकेल कसने की तैयारी शुरू कर दी है जो कहीं न कहीं छात्रों को सपोर्ट कर रहे थे।

RRB NTPC रिजल्ट हंगामा मामले में पटना के मशहूर खान सर पर पत्रकार नगर थाने में एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस ने सिर्फ खान सर ही नहीं, बल्कि कई कोचिंग संचालकों के मालिकों समेत 400 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। खान सर पर छात्रों को विरोध और हिंसा के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है। और आरोप लगने के बाद से खान सर गायब बताए जा रहे है। गौरतलब है कि बिहार में बीते कुछ दिनों से कई छात्र RRB NTPC Exam में विसंगति और ग्रेड-D में सीबीटी -2 परीक्षा का विरोध कर रहे हैं।

पटना के राजेंद्र नगर रेलवे टर्मिनल पर सोमवार को हजारों परीक्षार्थियों ने 5 घंटे से अधिक समय तक ट्रेनों को रोका और प्रदर्शन किया। इसके बाद बुधवार को गुस्साए छात्रों पर जब पुलिस ने लाठीचार्ज किया तो उन्होंने श्रमजीवी एक्सप्रेस की एक बोगी में आग लगा दी थी। ऐसे में खान सर के साथ-साथ कुछ अन्य कोचिंग संस्थानों और 400 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।

एफआईआर में खान सर, एस के झा, नवीन, अमरनाथ, गगन प्रताप और गोपाल वर्मा के अलावा सभी शिक्षकों को आरोपी बनाया गया है. इन पर आईपीसी की धारा 147, 148, 151, 152, 186, 187, 188, 323, 332, 353, 504, 506 और 120 (बी) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.