Prakash Parv: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आज प्रकाश पर्व (Guru Parv) पर एक बड़ा एलान किया है. देश में हर साल 26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ (Veer Bal Diwas) के रूप में मनाया जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि आज श्री गुरु गोबिंद सिंह (Guru Gobind Singh) जी के प्रकाश पर्व के पावन अवसर पर मुझे यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि इस साल से 26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा. यह साहिबजादों (Saahibjaade) के साहस के लिए एक उचित श्रद्धांजलि है. 

26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ मनाने का ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने ट्वीट किया, ”माता गुजरी, श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और 4 साहिबजादों की वीरता और आदर्श लाखों लोगों को शक्ति देते हैं. वे अन्याय के आगे कभी नहीं झुके. उन्होंने एक ऐसी दुनिया की कल्पना की जो समावेशी और सामंजस्यपूर्ण हो. अधिक से अधिक लोगों को इनके बारे में जानना समय की जरुरत है.

साहिबजादों और माता गुजरी का बलिदान अतुलनीय

26 दिसंबर को वीर बाल दिवस मनाने के फैसले का गृहमंत्री अमित शाह और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्वागत किया है. देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, ‘वीर बाल दिवस’ मनाने के निर्णय से चार साहिबजादों की राष्ट्रभक्ति से न सिर्फ आज करोड़ों बच्चे प्रेरणा लेकर राष्ट्रसेवा में अपना योगदान दे पाएंगे बल्कि आने वाली पीढ़ियों तक उनका बलिदान याद किया जाएगा. इसके लिए मोदी जी का अभिनंदन करता हूं. देश और धर्म की रक्षा के लिए 4 साहिबजादों और माता गुजरी का अतुलनीय बलिदान और राष्ट्रभक्ति देश की धरोहर है.

ये भी पढ़ें: सिख समुदाय के खिलाफ फर्जी वीडियो वायरल मामले में बड़ा खुलासा, पाकिस्तान से ऑपरेट हो रहे ये 46 ट्विटर ID ब्लॉक

‘साहिबजादों के बलिदान का हर किसी को पता होना चाहिए’

कैप्टन अमरिंदर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले पर ट्वीट करते हुए कहा, ”26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ के रूप में मनाने का निर्णय स्वागत योग्य है. साहिबजादों द्वारा भारी दमन के तहत दिखाया गया साहस अद्वितीय है और दुनिया भर में हर किसी को उनके सर्वोच्च बलिदान के बारे में पता होना चाहिए. इस दिशा में यह एक सराहनीय कदम है.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.