PM Modi on Budget 2022: बजट 2022 पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी का ये संबोधन वर्चुअली हो रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि एक साल के बजट को एक घंटे में बोलना कठिन कार्य है. प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था का निरंतर विस्तार हो रहा है. 7 – 8 साल पहले भारत की अर्थव्यवस्था 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपये थी. आज ये 2 लाख 30 हजार करोड़ के आसपास की है. 

पीएम मोदी ने कहा कि कल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बहुत ही खूबसूरती से, बहुत ही अच्छे ढंग से बजट के कुछ पहलुओं को हमारे सामने रखा है. बजट स्पीच में पूरा बजट संभव नहीं होता है क्योंकि बजट में बहुत बड़ा दस्तावेज होता है, बारीकियां होती हैं और सदन में ये सब बोलना संभव भी नहीं होता है. 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इस समय 100 साल में आई सबसे बड़ी वैश्विक महामारी से देश लड़ रहा है. कोरोना का ये कालखंड दुनिया के लिए अनेक चुनौतियां लेकर आया है. दुनिया उस चौराहे पर आकर खड़ी हो गई है, जहां टर्निंग प्वाइंट निश्चित है. आगे जो दुनिया जो हम देखने वाले हैं, वो वैसी नहीं होगी, जैसी कोरोना से पहले थी.’

पीएम मोदी ने कहा कि ये भारत के लिए नए सिरे से तैयारी का, नए अवसरों का, नए संकल्पों की सिद्धि का समय है. बहुत जरूरी है कि भारत आत्मनिर्भर बने और उस आत्मनिर्भर भारत की नींव पर एक आधुनिक भारत का निर्माण हो. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने आगे कहा कि बीते सात वर्षों में जो निर्णय लिए गए, जो नीतियां बनीं, पहले की जिन नीतियों में सुधार हुआ, उस वजह से आज भारत की अर्थव्यवस्था का निरंतर विस्तार हो रहा है. 7 – 8 साल पहले भारत की GDP 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपये थी. आज भारत की अर्थव्यवस्था 2 लाख 30 हजार करोड़ के आसपास की है. 

पीएम मोदी ने कहा कि जब गरीब को मूलभूत सुविधाएं मिलती हैं तो वो अपनी ऊर्जा, अपने विकास, देश के विकास में लगाता है. इस बजट का भी फोकस गरीब, मिडिल क्लास और युवाओं को बुनियादी सुविधाएं देने और आय के स्थाई समाधानों से जोड़ने पर है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.