Goa Election 2022: गोवा में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर बीजेपी (BJP) से इस्तीफा दे चुके राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर ने रविवार को कहा कि वह मांद्रेम सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ेंगे. पारसेकर ने कहा कि उन्होंने शनिवार को पार्टी से अपने इस्तीफे की पेशकश की थी और पार्टी में सभी पदों को छोड़ दिया है.

टिकट नहीं मिलने से थे नाराज 

इस्तीफा देते वक्त पारसेकर 14 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ दल बीजेपी की घोषणा-पत्र समिति के अध्यक्ष थे. उन्होंने कहा कि उनके इस्तीफे के बाद कई राजनीतिक दलों ने उनसे संपर्क किया, लेकिन उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने का विकल्प चुना. उन्होंने कहा, “मैं जल्द ही अपना नामांकन दाखिल करूंगा.” 65 वर्षीय पारसेकर, बीजेपी की ओर से मांद्रेम विधानसभा सीट से उन्हें टिकट नहीं देने से नाराज थे. पार्टी ने सीट से मौजूदा विधायक दयानंद सोपते को उतारा है.

2019 में बीजेपी में हो गए थे शामिल

इस सीट का पारसेकर ने 2002 से 2017 के बीच प्रतिनिधित्व किया था. सोपते ने 2017 के राज्य विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर पारसेकर को हराया था, लेकिन वह 2019 में नौ अन्य नेताओं के साथ बीजेपी में शामिल हो गए थे. पारसेकर, 2014 से 2017 के बीच गोवा के मुख्यमंत्री थे. तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को रक्षा मंत्री के तौर पर केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने के बाद पारसेकर को राज्य का मुख्यमंत्री चुना गया था.

ये भी पढ़ें-

Corona के बीच Punjab Election से पहले क्यों चर्चा में आए Satyendra Jain, Kejriwal ने केंद्र पर क्या आरोप लगाए?

Maharashtra: ऊर्जा मंत्री ने CM उद्धव ठाकरे को लिखी चिट्ठी, संकट में पड़े बिजली विभाग को उबारने के लिए मांगी ये इजाजत



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.