पाकिस्‍तानी सेना के लिए काल बन चुके बलूच विद्रोहियों ने बलूचिस्‍तान प्रांत में पांजगुर और नूशकी इलाके में फ्रंटियर कोर और सेना के एक ठिकाने पर भीषण हमला किया है। बलूच विद्रोहियों का दावा है कि इस हमले में 100 पाकिस्‍तानी सैनिक मारे गए हैं।

जानकारी के मुताबिक़, बलोच लिबरेशन आर्मी के हमले में फ्रंटियर कोर के आईजी मेजर जनरल अयमान बिलाल सफदर की भी मौत हो गई है. एक साथ दो मोर्चों पर हुए हमले से पाकिस्तान के सैनिकों को संभलने तक का मौका नहीं मिला और उसे अपने सैनिकों के जान-माल का तगड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. पाकिस्तान के इस हिस्से में गृह युद्ध जैसे हालात बने हुए है.

अपने बयान में पाकिस्‍तानी सेना ने माना कि 1 सैनिक गोलीबारी में मारा गया है। बताया जा रहा है कि अभी दोनों ही पक्षों के बीच इलाके में गोलीबारी जारी है। फ्रंटियर कोर ने भी माना है कि उसके कैंप के पास दो विस्‍फोट हुए हैं और गोलीबारी जारी है। इस हमले की जिम्‍मेदारी बलूचिस्‍तान लिबरेशन आर्मी ने ली है। बीएलए ने दावा किया कि इस हमले में 100 पाकिस्‍तानी सैनिक मारे गए हैं। उसने कहा कि उसके भीषण हमले में पाकिस्‍तानी सेना का शिव‍िर लगभग तबाह हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.