Indian Railways releases list of Frequently Asked Questions and Answers: भर्ती परीक्षाओं में कथित अनियमितताओं को लेकर छात्रों के हिंसक प्रदर्शनों के बाद रेलवे ने गुरुवार को ‘अक्सर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब’ (एफएक्यू) की सूची जारी कर दी है. इससे उसकी भर्ती प्रक्रिया को समझा जा सकेगा. रेलवे पर अभ्यर्थियों की समस्याएं सुलझाने का भारी दबाव है.

रेलवे की गैर-तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियों (NTPC) और लेवल-1 की परीक्षाओं में अनियमितताओं को लेकर बिहार और उत्तर प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं, जिसके बाद रेलवे को अपनी भर्ती प्रक्रिया रोकनी पड़ी है. इसके साथ-साथ समस्या के समाधान के लिए समिति गठित करनी पड़ी है.

गुरुवार को ‘अक्सर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब’ की सूची जारी करते हुए रेलवे ने अपनी अधिसूचित रिक्तियों के लिए अभ्यर्थियों की चयन प्रक्रिया से जुड़े भ्रम को दूर करने का प्रयास किया. रेलवे ने कहा कि रेलवे भर्ती बोर्ड ने 2018 से 2,83,747 रिक्तियां अधिसूचित की थीं और 1.32 लाख से ज्यादा भर्तियां कीं.

RRB NTPC: कांग्रेस महासचिव Priyanka Gandhi ने प्रयागराज में पुलिस कार्रवाई के पीड़ित छात्रों से की बात, मिलने का किया वादा

रेलवे ने कहा, ”बचे हुए पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है. रेलवे भर्ती बोर्ड ने कोविड महामारी के बावजूद पिछले साढ़े तीन साल में करीब चार करोड़ कंप्यूटर आधारित जांच (सीबीटी) किए हैं.” रेलवे ने यह भी स्पष्ट किया है कि यह कहीं नहीं कहा गया है कि दूसरे सीबीटी के लिए सात लाख अलग उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: FIR on Khan Sir: खान सर के समर्थन में उतरा JDU, कहा- पुलिस बिना देर किए वापस ले मुकदमा, छात्रों से की ये अपील



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.