BJP Muslim Candidates: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले तमाम राजनीतिक दल हर फैक्टर को ध्यान में रखकर चल रहे हैं. फिर चाहे वो दलित-ओबीसी फैक्टर हो या फिर ब्राह्मण वोटों की बात हो, सभी को साधने की पूरी कोशिश जारी है. लेकिन इस बीच मुस्लिम वोट बैंक पर भी कई पार्टियों की नजर है, लेकिन बीजेपी की रणनीति कुछ और है, इसीलिए उन्होंने टिकट बंटवारे में मुस्लिम उम्मीदवारों को दरकिनार कर दिया. अब इसका पार्टी को चुनाव में फायदा होगा या फिर नुकसान? ये सवाल एबीपी-सी वोटर के सर्वे में लोगों से पूछा गया. 

ज्यादातर लोगों ने कहा- बीजेपी को होगा फायदा

यूपी चुनाव को लेकर हुए इस सर्वे में लोगों से पूछा गया था कि, मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट न देने से बीजेपी को फायदा होगा या नुकसान? जिसका जवाब काफी हैरान कर देने वाला आया. ज्यादातर लोगों का मानना है कि बीजेपी ने मुस्लिमों को टिकट नहीं देकर जो रणनीति अपनाई है उसका उसे फायदा होगा. 55 फीसदी लोग ये मानते हैं. 

एबीपी-सी वोटर सर्वे के नतीजे – 
फायदा         55 %
नुकसान       31 %
पता नहीं       14 %

बता दें कि मुस्लिम वोटर्स पर कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बीएसपी की नजरें हैं. लेकिन इस बार यूपी चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम की एंट्री भी हुई है, ऐसे में ओवैसी भी कई फीसदी मुस्लिम वोट को अपने पाले में खींच सकते हैं. 

ये भी पढ़ें –

Randeep Surjewala In Ghoshnapatra: ‘घोषणापत्र’ में रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार को घेरा, कहा- मौका है महंगाई, बेरोज़गारी का बदला लेने का, BJP को जवाब देने का

RPN Singh Joins BJP: बीजेपी में शामिल हुए आरपीएन सिंह, कांग्रेस को दिया झटका

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.