डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने संत विजयदास की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए राजस्थान के भरतपुर में पहाड़ियों के अवैध खनन की जांच के लिए पार्टी के चार नेताओं की उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है। यह समिति भरतपुर जाकर घटना स्थल का दौरा करेगी और पूरे मामले की जानकारी एकत्रित कर नड्डा को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

नड्डा द्वारा गठित इस उच्च स्तरीय समिति में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरूण सिंह, राजस्थान के सीकर से लोक सभा सांसद स्वामी सुमेधानन्द सरस्वती, रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी, सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह और यूपी के पूर्व डीजीपी एवं सासंद बृजलाल को सदस्य बनाया गया है।

उच्च स्तरीय समिंति के गठन को लेकर भाजपा की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि, राजस्थान के भरतपुर में अवैध रूप से पहाड़ियों के खनन के विरोध में संत विजयदास के नेतृत्व में पिछले 551 दिनों से धरना एवं आन्दोलन चल रहा था, प्रदेश सरकार एवं प्रशासन की निष्क्रियता के कारण 20 जुलाई, 2022 को संत विजयदास जी ने आत्मदाह किया और आज 23 जुलाई, 2022 को उनकी मृत्यु हो गयी।

बयान में आगे कहा गया है, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस घटना एवं संत विजयदास जी की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है तथा इस संबंध में पार्टी की एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है। समिति भरतपुर जाकर घटना स्थल का दौरा करके जानकारी एकत्रित करेगी तथा शीघ्र रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष जी को सौंपेगी।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.