एक मशहूर कहावत है कि कौन कहता है आसमां में सुराख हो नहीं सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारों…!
इस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है ऑल इंडिया न्यूज़ पेपर एसोसिएशन (आईना) के राष्ट्रीय सचिव अजय वर्मा और प्रदेश अध्यक्ष शेखर पंडित ने अपनी पूरी टीम के साथ, आईना द्वारा लखीमपुर में हुए पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार की न सिर्फ भर्त्सना और निंदा की गयी बल्कि राज्यपाल को ज्ञापन देकर इस पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच की मांग की गई थी।

यह टीम कोई गेंद बल्ला लेकर किसी स्टेडियम में नहीं उतरी और ना ही आईना टीम द्वारा घर बैठकर किसी ज्ञापन को बनाकर तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करी बल्कि आईना की टीम ने राजभवन के सामने प्रदर्शन कर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी द्वारा पत्रकारों के साथ किए गए दुर्व्यवहार को लेकर गंभीर जांच करने की मांग माननीय राज्यपाल महोदया के सामने रखी जिसपर राज्यपाल महोदया ने संज्ञान लेकर जांच के आदेश जारी किए है।

मामला लखीमपुर खीरी से जुड़ा था जहां मदर चाइल्ड केयर सेंटर में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करने पहुंचे गृह राज्य मंत्री ट्रेनिंग ने पत्रकारों के सवाल पूछने पर पत्रकारों को अपशब्द बोला और लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को धमकाने, डराने का प्रयास किया गया था।
आईना के मांग पत्र पर विशेष सचिव, राज्यपाल महोदया ने अपर मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उक्त प्रकरण की जांच हेतु कार्यवाही करने का निर्देश जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.