[ad_1]

Saamana on BJP: शिवसेना नेता और सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला है. उन्होंने सामना के साप्ताहिक कॉलम रोक-टोक में बीजेपी पर जमकर निशाना शाधा. सामना अपने रोक-टोक कॉलम में लिखता है, पीएम मोदी के इर्द-गिर्द व्यापारियों का मेला है और मोदी ने राजनीति को एक इवेंट का स्वरूप दे दिया है. पीएम मोदी ने राजनीति को उत्सव का स्वरूप दिया है जो आज तक दुनिया में कहीं नहीं देखा गया .

सामना में कहा गया कि चुनाव में इससे पहले पैसे का इतना इस्तेमाल कभी नहीं देखा गया जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आने के बाद देखा गया हो. उन बीजेपी नेताओं को पूनम महाजन नामर्द बोलेगी क्या? 

संजय राउत ने रोक-टोक कॉलम में आर के लक्ष्मण द्वारा निकाले गए एक कार्टून का जिक्र करते हुए बीजेपी नेता पूनम महाजन को करारा जवाब दिया है. राउत ने लिखा है कि कुछ दिन पहले उन्होंने एक आर के लक्ष्मण की तस्वीर सोशल मीडिया पर डाली थी जिस पर पूनम महाजन ने उनसे सवाल पूछा था. जो तस्वीर सोशल मीडिया पर राउत ने डाली थी उसमें बाला साहब ठाकरे एक कुर्सी पर बैठे हैं और दूसरी कुर्सी पर उन्होंने पैर रखे हुए हैं. वहीं सामने बीजेपी के प्रमुख नेता सीट बंटवारे की फाइल लेकर खड़े हैं और लिखा है बैठिए बाजू के छोटे स्टुल पर. 

पूनम महाजन को दिया करारा जवाब 

इस कार्टून पर पूनम महाजन ने नाराजगी व्यक्त करते हुए लिखा था कि स्वर्गीय बाला साहब और स्वर्गीय प्रमोद महाजन इन दो मर्दों ने हिंदुत्व के लिए गठबंधन किया था नामर्द की तरह इस तरह के कार्टून ना डालें. अब इसी कार्टून पर राउत ने पूनम महाजन से सवाल पूछा है कि 2014 में जब हिंदुत्व की आधार पर बने गठबंधन को जिन बीजेपी नेताओं ने तोड़ा क्या उन्हें भी आप नामर्द कहेगी. 30 जनवरी को उद्धव ठाकरे ने अपने भाषण में बीजेपी शिवसेना के बीच अंदर खाने की अफवाहों को सामने लाते हुए कार्यकर्ताओं में सीधा संदेश दे दिया है.

नगर पंचायत चुनाव में उभर कर आया महाविकास आघाडी गठबंधन

नगर पंचायत चुनाव में भले ही बीजेपी बड़ी पार्टी बनी हो लेकिन महाविकास आघाडी गठबंधन सबसे बड़ा बनकर उभरा है और आने वाले विधानसभा चुनाव में यही देखने मिलेगा 170 से ज्यादा विधायक महा विकास आघाडी के जीत दर्ज करेंगे.

ये भी पढ़ें:

Jammu Kashmir Encounter: आतंक पर सुरक्षाबलों का बड़ा प्रहार, घाटी में पिछले 12 घंटों के अंदर लश्कर और जैश के 5 आतंकी ढेर

Pegasus Latest Update: बजट सत्र से ठीक पहले जासूसी कांड पर सियासत, क्या है पेगासस और रिपोर्ट में क्या दावे किए गए?

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.