Pakistan Smuggling Drugs Through Drones: एक बार फिर पाकिस्तान की ड्रोन वाली साजिश नाकाम हो गई है. सीमा सुरक्षा बल के सतर्क जवानों ने अमृतसर सेक्टर में बीती रात ड्रोन के जरिए फेंका गया 7 किलो मादक पदार्थ बरामद किया. अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत करोड़ों रुपए बताई जा रही है है. मादक पदार्थ भारतीय सीमा में फेंकने के बाद ड्रोन वापस पाकिस्तान चला गया.

सीमा सुरक्षा बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 19/20 जनवरी 2022 की रात BSF के जवानों ने अमृतसर से लगी पाकिस्तानी सीमा पर सीमापार से आती हुई किसी उड़ती हुई चीज की गुनगुनाहट सुनी. अधिकारियों का मानना है कि यह ड्रोन ही था. बीएसएफ के जवानों ने तत्काल आवाज की तरफ फायरिंग की और रोशनी वाले बमों से पूरे क्षेत्र को रोशन कर दिया. इसी दौरान बीएसएफ कर्मियों को उड़ती हुई चीज से कोई अन्य चीज़ गिरने की आवाज सुनाई दी.

बीएसएफ ने तत्काल सभी सुरक्षा एजेंसियों को सूचित किया. इसके बाद उस इलाके की घेराबंदी की गई और एक जगह से मादक पदार्थ के 7 पैकेट बरामद किए गए, जिनका वजन 7 किलो से ज्यादा बताया गया है. बीएसएफ के मुताबिक बरामद किया गया मादक पदार्थ हेरोइन है, इसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में करोड़ों रुपए कीमत बताई जाती है.

ये भी पढ़ें- Punjab Election 2022: क्या Congress पंजाब में इन्हें बनाएगी मुख्यमंत्री का चेहरा, अंदरखाने चल रही है ये चर्चा

जम्मू कश्मीर और पंजाब से जुड़ी पाकिस्तानी सीमाओं से पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI लगातार अपने ड्रोन के जरिए मादक पदार्थ और हथियार भारतीय सीमा में भेज रही है. उसका मकसद पंजाब के चुनाव के दौरान अशांति फैलाना है. इसके साथ ही इस मादक पदार्थ को बेचने के बदले जो रकम मिलेगी, उसका प्रयोग आतंकवाद में करना है. इसके पहले भी BSF ने इसी प्रकार भेजे गए मादक पदार्थ और हथियार बरामद किए हैं. पिछले महीने में BSF ने पाकिस्तान से आए ऐसे ही एक ड्रोन को मार गिराया था, यह ड्रोन चीन निर्मित बताया गया था.

ये भी पढ़ें- Corona Situation in India: देश में कहां, कैसा है कोरोना का हाल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिया हर सवाल का जवाब, 11 राज्यों में 50 हजार से ज्यादा एक्टिव केस



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.