[ad_1]

UP Assembly Election 2022: बीजेपी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आज यानी मंगलवार को अपना घोषणा पत्र जारी करेगी. इसे ‘लोक कल्याण संकल्प पत्र’ का नाम दिया गया है. इसके लिए बीजेपी ने ‘सुझाव आपका, संकल्प हमारा’ के नाम से अभियान चलाकर लोगों से सुझाव मांगे थे. समाजवादी पार्टी और कांग्रेस बुधवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर सकती है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के घोषणा पत्र में संतुलित वादे किये जायेंगे.

बीजेपी के घोषणा पत्र का नाम ‘लोक कल्याण संकल्प पत्र’ है  

इसमें विपक्ष की तरह मुफ्त में कुछ भी बांटने की बात नहीं की गई है. बीजेपी ने अपने चुनाव घोषणा पत्र को ‘लोक कल्याण संकल्प पत्र’ नाम दिया है. इसके लिए बीजेपी ने ‘सुझाव आपका, संकल्प हमारा’ के नाम से अभियान चलाकर लोगों से सुझाव मांगे थे. इस संकल्प पत्र में सरकार के खर्च और सरकारी खजाने की हकीकत के बीच संतुलन बनाए रखने का प्रयास किया गया है. हालांकि बीजेपी इस बार के यूपी चुनावों में निम्नलिखित वादे कर रही है. 

  • हर घर में एक व्यक्ति को नौकरी
  • अन्नपूर्णा योजना के तहत सस्ता राशन
  • एक निश्चित मानदंड के तहत लड़कियों के लिए  स्कूटी
  • छात्रों के लिए टैबलेट और स्मार्ट फोन योजना  
  • किसानों के लिए फसल बीमा योजना
  • किसानों को सिंचाई के लिए फ्री सोलर पंप

 कहां जारी होगा बीजेपी का घोषणा पत्र?

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मंगलवार सुबह साढ़े 10 बजे जारी करेंगे. इसके लिए लखनऊ के गोमती नगर में स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा, उत्तर प्रदेश के चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद रहेंगे. 

रविवार को जारी होना था बीजेपी का संकल्प पत्र

बीजेपी को अपना संकल्प पत्र रविवार को जारी करना था, लेकिन भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन के कारण कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया था. बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र के लिए समाज के सभी वर्गों के लोगों की राय ली है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 दिसंबर 2022 को आकांक्षा पेटी लांच की थी. इसके जरिए प्रदेश भर के लोगों से सुझाव मांगे गए थे. बीजेपी ने लोगों से मिस्ड काल और ई-मेल के जरिए भी सुझाव मांगे थे. 

विकास भदौरिया के साथ नीरज पांडेय की रिपोर्ट.

UP Election 2022: चंद्रशेखर आजाद ने बसपा को बताया सूखा पेड़, अखिलेश यादव के लिए कही यह बात

UP Election 2022: ‘ऐसी क्या मजबूरी है कि अखिलेश को ममता जरुरी हैं’, स्मृति ईरानी का तंज

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.