जानकारी के अनुसार, थाना कोतवाली हयातनगर जिला संभल के ग्राम एंचोली की रहने बाली एक नाबालिक लड़की से गांव के ही चार युवकों ने अगवा कर सामूहिक बलात्कार किया। जिसमे पीड़ित परिवार ने थाना हयातनगर चौकी जरगांव में शिकायत दर्ज कराई सुनवाई नहीं होने पर बिलारी कोतवाली शिकायत दर्ज कराई थी। घटना एक हफ्ते पहले की बताई जा रही है। पीड़िता का कहना है की वह अपने पिता वा भाई के साथ एक हफ्ता पहले ग्राम सड़थल खेड़ा बिलारी मेला देखने आई थी तो गांव के ही सलीम, आदिप पुत्र मकसूद, दो अन्य युवकों ने नशीला पदार्थ खिलाकर अगवा कर ले गए और उसके साथ बलात्कार किया और कुछ दिन बाद उसको नशे की हालत में गांव छोकर फरार हो गए।

पीड़िता ने सारी बात अपने परिजनों को बताई, पीड़ित परिवार का आरोप हे की बिलारी पुलिस ने भी fir तो दर्ज की लेकिन पुलिस आरोपियो को एक हफ्ते बाद भी नही पकड़ पाई जबकि आरोपी गांव में ही खुलेआम घूम रहे है,पीड़ित परिवार ने पुलिस पर आरोपी से रिश्वत लेने के साथ साथ पीड़ित युवती पर मारपीट कर जबरन बयान बदलने का भी आरोप लगाया है।

पीड़िता का कहना हे कि ग्राम जरगाव चौकी इंचार्ज उसे बिलारी क्षेत्राधिकारी कार्यालय पर लेकर आए और एक लेडीज कांस्टेविल से उसे पीटबाकर जबरन उसे बयान बदलने के लिए प्रेरित किया गया।

बिलारी पुलिस द्वारा कार्यवाही न होने पर आज गुस्साए इंचोली के ग्रामीणों वा परिवारजनों ने सड़क जाम कर न्याय की मांग की। इसी बीच भीम सेना जिलाध्यक्ष चेतन मुरादाबादी ने कहा कि अगर जल्द ही न्याय नहीं मिला तो एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा। जाम लगाए हुए ग्रामीणों व परिवार जनों को समझाने में बिलारी क्षेत्र अधिकारी देश दीपक सिंह व पूरे पुलिस बल को भारी मशक्कत का सामना करना पड़ा सड़क पर घंटों जाम लगा रहा।

जिससे सड़क पर गाड़ियों की लंबी कतारें लगने लगी सूचना मिलते ही एसपी देहात विद्यासागर मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवार को समझाया आखिर अंत में पुलिस पीड़ित परिवार को समझाने में सफल हुई और जाम को खुलवाया मीडिया से बात करते हुए एसपी देहात विद्यासागर ने पुलिस पर लगाए सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया और 3 दिन के अंदर आरोपियों को पकड़ कर कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया, तब जाकर गांव वासी एवं पीड़ित परिवार शांत हुए और अपने अपने घरों को लौट गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.