[ad_1]

BJP MPs Will Count Merits of Budget Across The Country: 3 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022-23 के लिए आम बजट पेश किया था. इस बजट को लेकर मोदी सरकार की खूब आलोचना हो रही है. विपक्ष का कहना है कि कोरोना महामारी के बाद पैदा हुए बेरोजगारी, गरीबी और महंगाई जैसे मुद्दों पर सरकार ने कुछ नहीं किया. इस बीच मोदी सरकार ने लोगों तक बजट की खूबी और इसे आसान भाषा में समझाने के लिए एक प्लान तैयार किया है. 

5 और 6 फरवरी को बीजेपी के सभी सांसद अपने संसदीय क्षेत्र में बजट को लेकर कार्यक्रम करेंगे. बीजेपी सासंद पार्टी कार्यकर्ताओं और अपने क्षेत्र की जनता को बजट की बारीकियों से अवगत कराएंगे. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रों को जनता तक पहुंचाएंगे. 

बीजेपी आलाकमान की तरफ से तमाम सांसदों को बजट की खूबियां बताने का काम दिया गया है. ये सांसद अपने क्षेत्र में जाकर लोगों को बताएंगे कि बजट में उनके लिए क्या खास है और आने वाले समय में इससे उन्हें क्या फायदा मिल सकता है. 

बजट को लेकर असमंजस में लोग 

बता दें कि इस बार कोरोना महामारी की मार झेल रहे करोड़ों लोगों को बजट से कई उम्मीदें थीं. लेकिन मिडिल क्लास को बजट से कोई खास राहत नहीं मिल पाई. जिसका इस्तेमाल विपक्ष भी जमकर कर रहा है. विपक्ष इसे मुद्दा बनाकर संसद और संसद के बाहर उठा रहा है. वहीं देशभर में लोग भी बजट को लेकर असमंजस में हैं. ऐसे में बीजेपी अपनी पुरानी रणनीति के तहत जनता को फायदे गिनाने की कोशिश शुरू कर रही है. 

सांसदों को बजट समझाने के काम में लगाना जनता की नाराजगी को दूर करने की कवायद माना जा रहा है. इससे पहले वित्त मंत्री के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट पर अपने संबोधन में इसे गरीबों, किसानों और महिलाओं का बजट करार दिया था. साथ ही इसके ठीक अगले दिन यानी 2 फरवरी को प्रधानमंत्री ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से बजट को लेकर चर्चा की थी.

यह भी पढ़ें- 

UP Election 2022: मुजफ्फरनगर की जनता का क्या है मूड? जानें abp न्यूज़ के खास कार्यक्रम Operation 403 में

Goa Election 2022: बीजेपी और कांग्रेस में कौन होगी सबसे बड़ी पार्टी? शिवसेना नेता संजय राउत ने दिया ये जवाब

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.