सोशल मीडिया पर किसानों को लेकर एक दावा वायरल किया जा रहा है। जिसमें लिखा है कि खेतों में एक अजीब दिखने वाले कीड़े के कारण किसानों की मौत हो रही है। वायरल हो रही तस्वीरों में हरे रंग का कीड़ा नजर आ रहा है। इसके अलावा एक आदमी का शव भी देखा जा सकता है।

जब वायरल पोस्ट की पड़ताल असली न्यूज़ टीम ने की तो पाया वायरल दावा भ्रामक है।

वायरल पोस्ट का सच जानने के लिए सबसे पहले हमने मृत लोगों की तस्वीरों का रिवर्स इमेज सर्च करने पर कुछ यूट्यूब वीडियो पर तस्वीर मिली। खबर में उल्लेख किया गया है कि महाराष्ट्र के जलगांव जिले में बिजली गिरने से पिता-पुत्र की मौत हो गई है। इस वीडियो को कई मराठी मीडिया ने भी पब्लिश किया था।

आगे पड़ताल में यह पोस्ट हमें महाराष्ट्र टाइम्स में प्रकाशित मिली। खबर के मुताबिक, आबा चव्हाण खाद डालने के लिए अपनी पत्नी और बेटे के साथ खेत में गए थे। इसी बीच दोपहर करीब दो बजे अचानक बारिश शुरू हो गई। खेत में एक पेड़ के नीचे आबा चव्हाण अपने पत्नी और बेटे के साथ खड़े थे, तभी अचानक पेड़ पर बिजली गीरी। जिसके बाद आबा चव्हाण और उनके बेटे दीपक चव्हाण की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी पत्नी इस घटना में बच गई।

पड़ताल में आगे हमने फोटो में दिख रहे कीड़े की फोटो को रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें ये फोटो दूरदर्शन न्यूज आंध्रा के ट्विटर में मिला। जसमें स्पष्ट किया गया है कि वायरल पोष्ट फर्जी है। व्हाट्स एप ग्रुप्स में एक पोस्ट वायरल हो रही है। इसमें बताया जा रहा है कि एक जहरीले कीड़े के काटने से कोई भी व्यक्ति 5 मिनट के भीतर मर जाएगा। हालांकि, कृषि विज्ञान केंद्र ने साफ किया कि यह एक फर्जी पोस्ट है। कीड़े की तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज करने पर कई रिपोर्ट्स मिली, प्रोजेक्टनोआह नामके एक वेबसाइट के अनुसार इस कीड़े की लंबाई 3-4 सेंटीमीटर है। इसके काटने या छूने से शरीर में सिर्फ खुजली या जलन पैदा होती है, इससे मौत नहीं होती। इसको स्लग कैटरपिलर कहा जाता है।

यह कीड़े ज्यादातर गन्ने और बगीचों में पाए जाते हैं। रिपोर्टस के मुताबिक यह कीड़ा जहरीला जरूर है परन्तु जानलेवा नहीं।

हमने स्थानीय कृषि विभाग में इस कीड़े के बारे में जानकारी ली, जसमें उन्हेंने हमें स्पष्ट किया कि यह कीड़ा ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाता है। यह एक बहुभक्षी प्रकार का कीट है। यह विशेष रूप से अरंडी, आम, केला, अनार, खट्टे फल, अन्य फलों के पेड़, देशी बादाम, ओक, चाय, कॉफी, सजावटी पौधों, तनों और अन्य पौधों पर पाया जाता है।

अतः असली न्यूज़ की पड़ताल में यह स्पष्ट हो गया कि वायरल पोस्ट के साथ किया जा रहा दावा गलत है। वायरल तस्वीर में दिख रहे कीड़े से नहीं बल्कि बिजली गिरने पर पिता-पुत्र की मौत हुई है। इस कीड़े को छूने से त्वचा संबंधी समस्याएं होती है, लेकिन मृत्यु नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.