देश में सांप्रदायिक दंगे भड़काने और ISI जैसे क्रूर आतंकवादी संगठन से लिंक का जिस संगठन पर आरोप है, उसके मंच से पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। देश को शायद ये पता नहीं था कि हामिद अंसारी का एक और रुप है जो उप राष्ट्रपति के पद से हटने के बाद देखने को मिलेगा। पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने 26 जनवरी के मौके पर एक अमेरिकी संस्था के वर्चुअल कार्यक्रम में अपने ही देश के प्रति विवादित बातें कहीं। उन्होंने आरोप लगाया कि देश में असहिष्णुता बढ़ रही है। इस कार्यक्रम में अभिनेत्री स्वरा भास्कर भी शामिल हुई थीं। कार्यक्रम की आयोजक संस्था ‘इंडियन अमेरिकन मुस्लिम काउंसिल’ (IAMC) है। यह संस्था पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई व भारत में दंगे कराने की साजिश से जुड़ी बताई जाती है।

बीजेपी प्रवक्ता जफर इस्लाम ने पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के असहिष्णुता वाले बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि हामिद अंसारी साहब भूल चुके हैं कि वह इसी देश में बड़े-बड़े पदों पर रह चुके हैं, उपराष्ट्रपति रहे हैं… लेकिन आज देखिए कि जब भी मुंह खोलते हैं तो देश का मान-सम्मान गिराने की कोशिश करते हैं।

कार्यक्रम के आयोजकों में अग्रणी संस्था ‘इंडियन अमेरिकन मुस्लिम काउंसिल’ का कहना है कि वह आईएसआई से नहीं जुड़ी है। वह नागरिक अधिकारों की रक्षा के लिए कार्यरत एक अमेरिकी संस्था है। हालांकि कहा जा रहा है कि यह संस्था भारत में हिंदुओं का खौफ बताकर विषवमन करने में लिप्त रही है। वह भारतीय संसद में पास कानूनों का भी विरोध करती रही है। उसके सिमी से भी आतंकी रिश्ते होने का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.