गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल के पार्टी के साथ संबंधों को लेकर लगातार चर्चाएँ चल रही थी। इसी बीच हार्दिक पटेल ने बुधवार (18 मई) को पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को एक तीखा पत्र लिखकर कांग्रेस पार्टी छोड़ दी। पार्टी छोड़ते ही आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया। कांग्रेस पार्टी के पुराने सांसद शक्तिसिंह गोहिल ने दावा किया कि पटेल के आरोप भाजपा द्वारा लिखे गए हैं। पूर्व सांसद ने कहा, “ये किसी के आरोप नहीं हैं, जिन्होंने कांग्रेस छोड़ दी है। ये सभी भाजपा द्वारा लिखे गए हैं। वे इसे जोर से बोलते हैं। अगर भाजपा ने यह तय नहीं किया होता, तो सभी के शब्द एक जैसे नहीं होते।”

हार्दिक ने सोनिया गांधी को पत्र भी लिखा है। इसमें उन्होंने राहुल गांधी का नाम लिए बगैर उनपर निशाना साधा है। हार्दिक पटेल ने कहा, जब देश संकट में था, का नाम लिए बगैर उनपर निशाना साधा है। हार्दिक पटेल ने कहा, जब देश संकट में था, कांग्रेस को नेतृत्व की जरूरत थी, तब हमारे नेता विदेश में थे।  

गुजरात के पूर्व मंत्री ने पूछा कि पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता ने अपने मुद्दों को शीर्ष अधिकारियों के सामने पहले क्यों नहीं उठाया। “अगर आप पार्टी के नेतृत्व की बात करते हैं, तो आप कुछ दिन पहले राहुल गांधी के साथ एक मंच साझा कर रहे थे। आपको उनसे मिलने से किसने रोका? हमारे पास आंतरिक लोकतंत्र है। आंतरिक लोकतंत्र और अनुशासनहीनता के बीच एक पतली रेखा है।

हार्दिक पटेल 2019 में सोनिया गांधी के नेतृत्व वाली पार्टी में शामिल हुए थे, ने गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। उन्हें जुलाई 2020 में राज्य कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

कई महीनों से हार्दिक पटेल के भाजपा में जाने की अटकलें लगाई जाती रही हैं। अपने इस्तीफे से हार्दिक पटेल ने इस बात के संकेत भी दिए हैं कि वे भाजपा में जा सकते हैं। हार्दिक पटेल ने अपने इस्तीफे में राम मंदिर, CAA, आर्टिकल 370 और जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि इन मुद्दों का समाधान देश के लिए जरूरी था, लेकिन कांग्रेस लगातार इनमें बाधा ही बनती रही। उनकी इस टिप्पणी से यह माना जा रहा है कि वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। हार्दिक पटेल ने कहा कि भारत हो, गुजरात या फिर मेरे पटेल समाज की बात हो, कांग्रेस का अजेंडा सिर्फ केंद्र सरकार के विरोध का ही रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.