देश के प्रसिद्ध कवि और आम आदमी पार्टी के पूर्व सदस्य कुमार विश्वास के घर पंजाब पुलिस पहुंची। कुमार ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। ट्वीट में कुमार विश्वास ने कहा कि सुबह-सुबह पंजाब पुलिस द्वार पर पधारी है। एक समय, मेरे द्वारा ही पार्टी में शामिल कराए गए भगवंत मान को आगाह कर रहा हूँ कि तुम, दिल्ली में बैठे जिस आदमी को, पंजाब के लोगों की दी हुई ताकत से खेलने दे रहे हो वो एक दिन तुम्हें व पंजाब को भी धोखा देगा। देश मेरी चेतावनी याद रखे।

सूत्रों के अनुसार अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि किस कारण से पंजाब पुलिस उनके घर गई है। आप के संस्थापक सदस्यों में रहे कुमार विश्वास ने पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री व AAP मुखिया Arvind Kejriwal को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया था। न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में उन्होंने केजरीवाल पर अलगावादियों के सम​र्थन का आरोप लगाया था। दावा किया था कि एक बार केजरीवाल ने उनसे कहा था कि या तो वे पंजाब के मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर स्वतंत्र देश खालिस्तान के पहले प्रधानमंत्री बनेंगे।

पार्टी छोड़ने से पहले कुमार विश्वास पार्टी में काफी सक्रिय थे, उन्होंने पंजाब में भी पार्टी के लिए काफी प्रचार किया था। 16 फरवरी 2022 को कुमार विश्वास ने एएनआई से बातचीत करते हुए कहा था कि उन्हें समझने की जरूरत है कि पंजाब एक राज्य नहीं। पंजाब एक भावना है। पंजाबियत पूरी दुनिया में एक भावना है। ऐसे में एक ऐसा आदमी जिसे पिछले चुनाव में मैंने ये सुझाव दिया था कि अलगाववादी तत्वों का समर्थन न लें, जो कि पिछले चुनाव में अलगाववादियों से मिला हुआ था। लेकिन, उसने कहा था कि नहीं-नहीं हो जाएगा चिंता मत करो। जब मैंने उससे पूछा कि वो कैसे करेगा तो उसने इसका फॉर्मूला भी बताया था कि भगवंत मान और फुलका को लड़वा दूँगा। आज भी वो उसी रास्ते में हैं। नहीं भी होगा तो सरकार को कंट्रोल करने के लिए कोई न कोई कठपुतली बैठा लेगा।

इस बयान के बाद कुमार विश्वास पर आप हमलावर हो गई थी। पार्टी ने मीडिया को भी धमकी दी थी। आप नेता राघव चड्ढा (Raghav Chadha) ने कहा था कि अगर कोई कुमार विश्वास के बयानों को छापता है या दिखाता है तो AAP उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करेगी। चड्ढा ने दावा किया था कि इस तरह के बयान केजरीवाल को बदनाम करने की नीयत से दिए जा रहे हैं।

राघव चड्ढा ने कहा था, “कुमार विश्वास खुद देशद्रोही है। वो फर्जी और मनगढ़ंत वीडियो के जरिए अरविंद केजरीवाल को बदनाम करने और उनका मजाक उड़ाने के लिए वीडियो प्रसारित/प्रकाशित कर रहे हैं। कुमार विश्वास ने जो भी बयान दिए हैं वो सभी दुर्भावनापूर्ण, निराधार, मनगढ़ंत और भड़काऊ हैं।” मीडिया को धमकाते हुए कहा था, “अगर कोई चैनल इसे प्रकाशित/प्रसारित करता है या उसे प्रसारित करने के लिए मंच प्रदान करता है तो हमें कड़ी कानूनी कार्रवाई करने के लिए मजबूर किया जाएगा, जिसमें उसे उकसाने/सहायता करने के अपराध शामिल होंगे।”

गौरतलब है कि हालिया पंजाब विधानसभा चुनावों में आप ने जबर्दस्त जीत हासिल की है। भगवंत मान के नेतृत्व में पार्टी की सरकार बनने के बाद से ही केजरीवाल पर इसको कंट्रोल करने के आरोप लग रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.