सोशल मीडिया पर दो महिलाओं की फाइट का एक वीडियो वायरल हो रहा है। 2 मिनट 16 सेकंड की इस वीडियो को शेयर कर यूज़र दावा कर रहे हैं कि एक पाकिस्तानी महिला मुक्केबाज़ ने बम्बई में मैच जीतने के बाद किसी भी खिलाड़ी को उसे हराने के लिए चुनौती दी। तभी वहां बैठी एक दर्शक महिला विजया लक्ष्मी ने इस चुनौती को स्वीकार किया और रिंग में आ के लड़ाई की।

असली न्यूज़ टीम ने जब इस वीडियो की पड़ताल की तो पाया कि यह वीडियो पुराना है। दरअसल वीडियो में दिख रही दोनों महिला रेसलर भारत की ही हैं।

हमने वायरल दावे की पड़ताल शुरू करते हुए सबसे पहले वायरल वीडियो को गौर से देखा। ध्यान से देखने पर वीडियो में CWE और www.g8cwe.com लिखा नज़र आया। जिसका मतलब है कि यह रेसलिंग मैच CWE की रिंग में हुआ है। हमने वायरल वीडियो CWE के यूट्यूब चैनल पर ढूँढना शुरू किया। हमें CWE के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 13 जून 2016 में यह वीडियो अपलोड मिला। वीडियो के साथ हेडलाइन लिखी गई थी: कविता ने बीबी बुल बुल का ओपन चैलेंज स्वीकार किया।”

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमें वायरल वीडियो से जुड़ी खबर DNA इंडिया की वेबसाइट पर भी मिली। 30 सितम्बर 2017 को प्रकाशित खबर में वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल करते हुए बताया गया, ‘बीबी बुलबुल, जो भारत की पहली पेशेवर महिला पहलवान हैं, को हरियाणा की पूर्व पुलिस अधिकारी, पावर-लिफ्टिंग और ‎MMA चैंपियन कविता ने कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंट (CWE) के हब में एक द्वंद्व युद्ध के दौरान नीचे गिरा दिया था।

अतः अपनी पड़ताल में हमने पाया कि वायरल वीडियो को गलत सन्दर्भ में दिखाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.