पीएम मोदी का 9 सेकेंड्स का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में पीएम मोदी कहते हुए नजर आ रहे हैं, “हम मानने को तैयार नहीं, हिंदू एक धर्म है।” यूजर्स इस वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा कर रहे हैं कि पीएम मोदी ने हिंदू धर्म का अपमान किया है।

जब इस वायरल वीडियो की पड़ताल असली न्यूज टीम ने की तो पाया यह दावा भ्रामक और पीएम मोदी के खिलाफ दुष्प्रचार का है। वायरल हो रहा वीडियो एडिटेड है, जिसमें उनके पुराने इंटरव्यू के एक अंश को कट करके दिखाया जा रहा है। दरअसल पीएम मोदी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक, हिंदू एक धर्म नहीं है, हिन्दू जीवन जीने की एक शैली है।

सच जानने के लिए हमने सबसे पहले वायरल वीडियो को संबंधित कीवर्ड्स से सर्च करना शुरू किया। इस दौरान हमें इसका पूरा वीडियो टाइम्स नाउ चैनल के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर मिला। वीडियो को 9 मई 2014 को अपलोड किया गया था। जब साल 2014 में पीएम मोदी ने पत्रकार अर्नब गोस्वामी को एक इंटरव्यू दिया था। जिसके एक अंश को एडिट कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

पीएम मोदी का यह पूरा वीडियो 1 घंटे 27 मिनट का है। इस वीडियो में 19वें मिनट पर देखा जा सकता है कि पत्रकार अर्नब गोस्वामी प्रधानमंत्री से सवाल पूछते हैं, “बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में लिखा है कि वो प्रताड़ित हिंदुओं के साथ है और इन्हें भारत में आश्रय मिलना चाहिए। यहां पर मैं ये पूछना चाहता हूं कि बीजेपी केवल प्रताड़ित हिन्दुओं को ही आश्रय देने की बात क्यों कर रही है? बौद्ध, सिख, जैन, मुसलमान या ईसाई क्यों नहीं?”

इस सवाल का जवाब देते हुए पीएम मोदी कहते हैं कि हम मानते हैं कि इस देश में पले-बढे सभी हमारे ही लोग हैं। सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक, हिंदू एक धर्म नहीं है, हिन्दू जीवन जीने की एक शैली है, आप धर्म की बात कर रहे हैं, हम सुप्रीम कोर्ट के हिसाब से चल रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के हिसाब से हिंदू जीवनशैली है और उसमें न तो सिख का विरोध है न ही बौद्ध का।

आगे पड़ताल करते हुए हमें वायरल दावे से जुड़ी एक न्यूज रिपोर्ट Mumbai Mirror की वेबसाइट पर 8 मई 2014 को प्रकाशित मिली। रिपोर्ट में भी यही जानकारी दी गई है।

अतः हमारी पड़ताल में यह साबित हो गया कि पीएम मोदी के वीडियो को लेकर किया जा रहा दावा भ्रामक है। वायरल हो रहा वीडियो एडिटेड है, जिसमें पीएम मोदी के पुराने इंटरव्यू के एक अंश को दिखाया जा रहा है। असल में पीएम मोदी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक, हिंदू एक धर्म नहीं है, हिन्दू जीवन जीने की एक शैली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.