सोशल मीडिया पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की एक पोस्ट वायरल हो रही है। जिसे शेयर कर दावा किया जा रहा है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने राहुल गांधी की तारीफ की है। दरअसल यूजर्स आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के नाम से एक बयान शेयर कर रहे हैं और दावा कर रहे हैं ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का असर है कि मोहन भागवत कांग्रेस और राहुल गांधी की तारीफ करने लगे हैं।

जब इसकी पड़ताल असली न्यूज टीम ने की तो पाया वायरल दावा गलत है। मोहन भागवत ने अभी तक ना ही राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का समर्थन किया है और ना ही इस तरह का कोई बयान दिया है।

वायरल दावे का सच जानने के लिए हमने गूगल पर कई कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। लेकिन हमें वायरल दावे से जुड़ी कोई विश्वसनीय मीडिया रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई। कांग्रेस और आरएसएस दोनों ही विपरीत विचारधारा वाले संगठन हैं। ऐसे में अगर मोहन भागवत ने सच में ऐसा कोई बयान दिया होता तो वो सुर्खियों में जरूर होता।

आगे पड़ताल में हमने मोहन भागवत और आरएसएस के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट्स को खंगालना शुरू किया, लेकिन हमें वहां पर दावे से जुड़ी कोई पोस्ट नहीं मिली।

आगे पड़ताल करते हुए हमें 17 अप्रैल 2018 को टाइम्स ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली। रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था कि स्वतंत्रता संग्राम में कांग्रेस ने अहम भूमिका निभाई थी। मोहन भागवत की इसी कार्यक्रम के दौरान की तस्वीर को वायरल पोस्ट में इस्तेमाल किया गया है।

अतः असली न्यूज की पड़ताल में यह स्पष्ट हो गया कि मोहन भागवत के बयान को लेकर किया जा रहा वायरल दावा गलत है। मोहन भागवत ने अभी तक ना ही राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का समर्थन किया है और ना ही इस तरह का कोई बयान दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.