UP: SP से BJP-BSP-कांग्रेस तक, सबने बांटे दागियों को टिकट, पहले चरण की 58 सीटों पर 25% बाहुबली

ByAsli News Reporter

Feb 3, 2022 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,


UP Assembly Election: उत्तर प्रदेश की राजनीति की बात हो और बाहुबलियों और दागियों का जिक्र ना आए, ऐसा हो नहीं सकता. यूपी के रण का पहला चरण 10 फरवरी को है. ऐसे में सभी पार्टियों ने अपने उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतार दिया है. वार-पलटवार का सिलसिला आम हो चला है. लेकिन इस चुनाव में भी सभी पार्टियां ‘बाहुबलियों और दागियों’ को टिकट बांटने से नहीं चूकीं. पहले चरण में 11 जिलों शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा और आगरा की कुल 58 सीटों पर चुनाव होना है. पहले चरण में सबसे ज्यादा आपराधिक छवि के उम्मीदवारों को बीजेपी ने टिकट दिया है. जबकि दूसरे नंबर पर सपा और कांग्रेस हैं. तीसरे नंबर पर बसपा और चौथे पर रालोद है. 

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स इलेक्शन वॉच (ADR) की रिपोर्ट में यह सामने आया है. एडीआर ने उम्मीदवारों के हलफमाने का विश्लेषण कर रिपोर्ट जारी की है. पहले चरण के 623 में से 615 प्रत्याशियों के विश्लेषण में सामने आया कि 156 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. बीजेपी के 57 में से 29 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. वहीं सपा के 28 में से 21, रालोद के 29 में से 17, कांग्रेस के 58 में से 51, बसपा के 56 में से 19 और आम आदमी पार्टी के 52 में से 8 उम्मीदवारों पर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. 

Siddharth Nath Singh: योगी सरकार के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह पर ब्लेड से हमले की कोशिश, बाल-बाल बचे मंत्री, आरोपी गिरफ्तार

सपा उम्मीदवार पर सबसे ज्यादा मुकदमे

सबसे ज्यादा मुकदमे मेरठ की हस्तिनापुर सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी योगेश वर्मा पर दर्ज हैं. प्रदेश के गन्ना मंत्री और थानाभवन शामली से बीजेपी के प्रत्याशी सुरेश राणआ पर तीन और मुजफ्फरनगर सीट से उतरे मंत्री कपिल देव अग्रवाल पर सात केस दर्ज हैं. सरधना सीट से बीजेपी के मौजूदा विधायक संगीत सोम और किठौर सीट से सपा के प्रत्याशी शाहिद मंजूर पर भी मामले दर्ज हैं. 

सीएम योगी के रिपोर्ट कार्ड पर आप का बड़ा हमला, कहा- इतना काम किया होता तो नेता नहीं दौड़ाए जाते

दिलचस्प बात है कि इन पार्टियों ने ऐसे उम्मीदवारों को भी टिकट देने से गुरेज नहीं किया, जिनके खिलाफ महिलाओं के ऊपर अत्याचार से जुड़े मामले दर्ज हैं. महिलाओं पर अत्याचार से जुड़े मामले घोषित करने वाले ऐसे 12 उम्मीदवार हैं. एक उम्मीदवार ने अपने ऊपर दुष्कर्म से संबंधित मामला हलफनामे में बताया है. जिन उम्मीदवारों पर हत्या का मामला दर्ज है, उनकी संख्या 6 है. जबकि 30 उम्मीदवारों पर हत्या के प्रयास से जुड़ा मामला दर्ज है. 58 में से 31 चुनावी क्षेत्र संवेदनशील हैं, जहां तीन या उसे ज्यादा प्रत्याशियों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं. 

कितने उम्मीदवार करोड़पति?

650 उम्मीदवारों में से करीब 280  करोड़पति हैं. इसमें बीजेपी के 57 में से 55, रालोद के 29 में से 28, सपा के 28 में से 23, कांग्रेस के 58 में से 32 आप के 52 मे से 22 करोड़पति उम्मीदवार हैं. सपा के 28 प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 13.23 करोड़, भाजपा के 57 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 12.01 करोड़, रालोद के 29 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 8.32 करोड़स, बसपा के 56 प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 7.71 करोड़, कांग्रेस के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 3.08 करोड़ और आप के 52 उम्मीदवारों की संपत्ति 1.12 करोड़ रुपये है. 

ये भी पढ़ें – UP Election: CM Yogi के खिलाफ सपा ने खटखटाया चुनाव आयोग का दरवाज़ा, कहा- ‘अभद्र भाषा’ पर लगाएं रोक





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.