कुछ समय से सोशल मीडिया पर इंग्लिश में एक पोस्ट वायरल है, जिसमें लिखा है “Tonight at 12:30 to 03:30 make sure to turn off the phone, cellular, tablet, : and put away from your body. Singapore television announced the news. Please tell your family and friends. Tonight from 12:30 to 03:30, our planet will be exposed to very high radiation from Cosmic rays passing close to Earth. So please turn off your cell phones. Do not leave your device close to your body, it can cause you terrible damage. Check Google and NASA BBC News. Send this message to all the people who matter to you.”

हिंदी अनुवाद – “आज रात 00:30 से 03:30 बजे तक अपने फोन, सेल्युलर, टैबलेट आदि को बंद करना सुनिश्चित करें और अपने शरीर से दूर रखें! सिंगापुर टीवी ने इस खबर की घोषणा की! कृपया अपने परिवार और दोस्तों को बताएं! आज रात 12:30 बजे से 3:30 बजे तक हमारे ग्रह के लिए बहुत अधिक विकिरण होगा! कॉस्मिक किरणें पृथ्वी के करीब से गुजरेंगी, इसलिए कृपया अपना सेल फोन बंद कर दें! अपने डिवाइस को अपने शरीर के पास न छोड़ें, इससे आपको भयानक नुकसान हो सकता है! Google और NASA बीबीसी समाचार देखें! यह संदेश उन सभी लोगों को भेजें जो आपके लिए महत्वपूर्ण हैं! शुक्रिया।“

असली न्यूज़ ने जब इसकी पड़ताल की तो पाया कि वायरल न्यूज़ फेक है। सच जानने के लिए सबसे पहले हमने वायरल पोस्ट को ध्यान से पढ़ा। पोस्ट में सिंगापुर टीवी का जिक्र है। हमने जाँच की और पाया कि ऐसा कोई चैनल नहीं है। इसके बाद हमने कीवर्ड सर्च किया। कीवर्ड सर्च से ढूंढ़ने पर भी हमें कहीं ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें कॉस्मिक किरणों के धरती से गुजरने की बात कही गयी हो।

अधिक पुष्टि के लिए हमने भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी, इसरो से संपर्क किया। उन्होंने कहा यह सन्देश गलत है। ऐसी घटना के बारे में कोई विश्वसनीय सबूत नहीं है। इसके अलावा इस बात में कोई सच्चाई नहीं है कि कॉस्मिक किरणें मोबाइल उपयोग में कोई मॉड्यूलेशन कर सकती हैं।”

अतः अपनी पड़ताल में हमने पाया कि वायरल दावा गलत है। इसरो ने कहा कि पृथ्वी लगातार कॉस्मिक किरणों के संपर्क में आती है, लेकिन वातावरण के चुंबकीय क्षेत्र एक सुरक्षात्मक कवच के रूप में कार्य करते हैं और इन किरणों से हमें कोई हानि नहीं होती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.